32.1 C
New Delhi

चिने मोदी सर्कारस्य पुनः अंकीय आन्दोलनम् !चीन पर मोदी सरकार की फिर डिजिटल स्ट्राइक !

Date:

Share post:

केंद्र सरकारः भौमवासरम् ४३ अन्य दूरभाष गणनीय संज्ञायाम् प्रतिबंधम् क्रियते ! सरकारः अकथयत् तत सः सूचना तकनीकी अधिनियम इत्यस्य विधि क्रमांक ६९ए इत्यस्य अनुरूपम् ४३ दूरभाष गणनीय संज्ञाम् भारते उपभोग कर्ताम् प्राप्तम् कृतेन अवरोधयति !

केंद्र सरकार ने मंगलवार को 43 और मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया। सरकार ने कहा कि वह इंफोर्मेशन टैक्नोलॉजी अधिनियम की धारा 69A के तहत 43 मोबाइल ऐप को भारत में यूजर्स को एक्सेस किए जाने से रोक रही है !

दूरभाष गणनीय संज्ञायाः विरुद्धम् कार्यवाहिम् क्रियते यत् भारतस्य सम्प्रभुताय,अखण्डताय, रक्षाय,सुरक्षाय सार्वजनिक व्यवस्थाय च् क्षतिकृतं गतिविधिषु सम्मिलितमासन् !

मोबाइल ऐप्स के खिलाफ कार्रवाई की गई है जो भारत की संप्रभुता, अखंडता, रक्षा, सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए नुकसानदेह गतिविधियों में शामिल थे !

विद्युतीय सूचना तकनीकी मंत्रालय: च्,भारत सरकारः २४ नवंबर इतम् सूचना तकनीकी अधिनियमस्य विधि क्रमांक ६९ए इत्यस्य अनुरूपम् ४३ दूरभाष गणनीय संज्ञानि एव प्राप्तम् अवरोधयत: एकम् आज्ञाम् प्रसृतवान !

इलेक्ट्रॉनिक्स और इंफोर्मेशन टैक्नोलॉजी मंत्रालय, भारत सरकार ने 24 नवंबर को इंफोर्मेशन टैक्नोलॉजी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत 43 मोबाइल ऐप्स तक पहुंच को रोकते हुए एक आदेश जारी किया है !

इति गणनीय संज्ञाम् प्रति निवेशस्य आधारे अयम् कार्यवाहिम् तम् गतिविधिषु संलग्न कृताय क्रियते,यत् भारतस्य सम्प्रभुताय अखण्डताय च्, भारतस्य रक्षाय,राज्यस्य सुरक्षाय सार्वजनिक व्यवस्थाय च् बाधाम् सन्ति !

इन ऐप के बारे में इनपुट के आधार पर यह कार्रवाई उन गतिविधियों में संलग्न करने के लिए की गई, जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरा हैं !

एकम् सरकारी वार्ता पत्रे अकथ्यते तत विद्युतीय सूचना तकनीकी मंत्रालयः च् भारतीय अंतर्जाल पातक समन्वय केन्द्रम्,गृह मंत्रालयेन प्राप्त व्यापक सूचनानां आधारे भारते उपभोग कर्ताया इति गणनीय संज्ञानां प्राप्तम् अवरुद्धस्य आज्ञाम् प्रसृतवान !

एक सरकारी प्रेस रिलीज में कहा गया कि इलेक्ट्रॉनिक्स और इंफोर्मेशन टैक्नोलॉजी मंत्रालय ने भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र, गृह मंत्रालय से प्राप्त व्यापक रिपोर्टों के आधार पर भारत में यूजर्स द्वारा इन ऐप्स की पहुंच को अवरुद्ध करने का आदेश जारी किया है !

सरकारः २९ जून २ सितंबर इतम् च् भारतस्य सम्प्रभुतायाः अखंडतायाः च् रक्षाय बहु गणनीय संज्ञायाम् प्रतिबंधम् क्रियते स्म ! प्रतिबंधित कृतवान बहवः गणनीय संज्ञाम् चिनी मूलस्यासन् !

सरकार ने 29 जून और 2 सितंबर को भारत की संप्रभुता और अखंडता की रक्षा के लिए कई ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था ! बैन किए गए ज्यादातर ऐप चीनी मूल के थे !

वार्तापत्रे अकथ्यते तत इत्यात् पूर्व २९ जून २०२० तमम् भारत सरकारः ५९ दूरभाष गणनीय संज्ञानि प्रतिबंधितम् कृतवान स्म २ सितंबर २०२० तमम् सूचना तकनीकी अधिनियमस्य विधि क्रमांक ६९ए अनुरूपम् ११८ अन्य गणनीय संज्ञाषु प्रतिबन्धितम् कृतवान स्म !

प्रेस रिलीज में कहा गया कि इससे पहले 29 जून 2020 को भारत सरकार ने 59 मोबाइल ऐप्स पर बैन लगाया था और 2 सितंबर 2020 को इंफोर्मेशन टैक्नोलॉजी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत 118 और ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया गया था !

सरकारः सर्वाणि क्षेत्रेषु भारतस्य वासिन् सम्प्रभुतायाः च् अखंडतायाः च् हितानां रक्षाय प्रतिबद्धमस्ति अयम् च् सुनिश्चिताय सर्वाणि सम्भवम् पगम् उत्थाष्यति !

सरकार सभी मोर्चों पर भारत के नागरिकों और संप्रभुता और अखंडता के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और यह सुनिश्चित करने के लिए सभी संभव कदम उठाएगी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

Another Hindu temple vandalized in Canada with Anti-India Grafitti & Khalistan referendum posters

A Hindu temple in Canada's Edmonton was defaced with anti-India graffiti on Monday. The BAPS Swaminarayan Temple was...

Trump Assassination Attempt – US Presidential Elections will change dramatically

Donald Trump survived a weekend assassination attempt days before he is due to accept the formal Republican presidential...

PM Modi’s visit to Russia – Why West is so Worried and Disappointed?

The event of Russian President Vladimir Putin giving royal treatment to Prime Minister Narendra Modi during his two...

An open letter to Rahul Gandhi from an Armed Forces veteran

Mr Rahul Gandhi ji, Heartiest Congratulations on assuming the post of Leader of the Opposition in Parliament (LOP). This...