30.5 C
New Delhi
Friday, April 23, 2021

आतंकीयाः रक्षणे अवतरति महबूबा मुफ्ती !आतंकी के बचाव में उतरी महबूबा मुफ्ती !

Must read

केवल प्रतीक चित्र

राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण: पीडीपी इति युवा शाखायाः अध्यक्षः वाहिद पर्राम् आतंकेन संलग्नम् एकम् प्रकरणे बन्दीम् कृतवान ! पर्रा: शीघ्रेवे दक्षिण कश्मीरस्य पुलवामाया जनपद विकास परिषद निर्वाचनाय स्व नामांकनम् प्रस्तुतवान स्म !

राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण ने पीडीपी युवा शाखा के अध्यक्ष वाहिद पर्रा को आतंकवाद से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार कर लिया ! पर्रा ने हाल ही में दक्षिण कश्मीर के पुलवामा से जिला विकास परिषद चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल किया था !

आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीनेन तस्य संबंधानां प्रकरणे सोमवासरात् तेन अत्र एनआई ए इति मुख्यालये पृच्छनम् क्रियते स्म ! दक्षिण कश्मीर,विशेषतः आतंकेन प्रभावितं पुलवामायाम् पीडीपी इत्यस्य पुनरुद्धारे महत्वपूर्ण महत्वपूर्ण भूमिका निर्वहम् पर्रायाः नाम सेवामुक्त आरक्षकः उपाधीक्षक: दविंदर सिंह: प्रकरणस्य अन्वेषणस्य कालम् सम्मुखम् आगतवान !

आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन से उसके संबंधों के मामले में सोमवार से उससे यहां एनआईए मुख्यालय में पूछताछ की जा रही थी ! दक्षिण कश्मीर, खासकर आतंकवाद से प्रभावित पुलवामा में पीडीपी के पुनरुद्धार में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पर्रा का नाम निलंबित पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह मामले की जांच के दौरान सामने आया !

एनआईए इति प्रवक्ता: अकथयत् अद्य एनआईए इति वाहिद उर रहमान पर्राम् बन्दीम् करोतु,यत् तत पीपल्स डेमोक्रेटिक दलस्य युवा शाखा नेतास्ति ! हिजबुल मुजाहिद्दीनम् समर्थन दत्तम् अन्य जनैः सह च् कुचक्र कृतस्य गृहित्वा नवीद बाबू:-दविंदर सिंह: अभियोगे बन्दीम् कृतवान !

एनआईए प्रवक्ता ने कहा आज एनआईए ने वाहिद उर रहमान पर्रा को गिरफ्तार कर लिया है, जोकि पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी का यूथ विंग लीडर है ! हिजबुल मुजाहिद्दीन को समर्थन देने और अन्य लोगों के साथ साजिश करने को लेकर नावीद बाबू-दविंदर सिंह केस में गिरफ्तार किया गया है !

इति मध्य पीडीपी इति प्रमुख महबूबा मुफ्ती इति बन्दीम् ब्लैकमेल इति अबदतः अकथयत् तत युवा शाखायाः प्रमुखः अनृतं रूपे उलझ्यते ! पूर्व मुख्यमंत्री ट्वीत कृतवान भाजपा देशस्य प्रत्येक नुक्कड़े विधि क्रमांक ३७० इतम् अवैध प्रकारेण निवृतस्य लाभम् उत्थायते !

इस बीच पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने इस गिरफ्तारी को ब्लैकमेल बताते हुए कहा है कि युवा विंग के प्रमुख को झूठा फंसाया गया है ! पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया बीजेपी देश के हर नुक्कड़ पर धारा 370 को अवैध तरीके से हटाने का फायदा उठा रही है !

तु यदा कश्मीरी अस्य निरस्त भवे प्रश्नम् उत्थायत् तर्हि तेन पातकी गृहे निबद्धयते ! प्रत्येकम्ज्ञायति तत दविंदर सिंह: कस्मै कार्यम् करोति स्म ! विडंबनामस्ति तत सः द्वितियानि दोषम् ददन्ति !

लेकिन जब कश्मीरी इसके निरस्त होने पर सवाल उठाते हैं तो उन्हें जेल में बंद कर दिया जाता है ! हर कोई जानता है कि दविंदर सिंह किसके लिए काम करता था ! विडंबना है कि वह दूसरों को दोष दे रहे हैं !

महबूबा अग्रम् अकथयत् वाहिदस्य इति मानवेन सह कश्चित संलग्नयन्नास्ति तस्मिन् च् अनृतं आरोपम् आरोपयति ! पीडीपी इति जम्मू – कश्मीरस्य च् मुख्यधारायाः द्वितीय दलानि ब्लैकमेल इति भयाय च् इदृशं क्रियते ! महबूबा अयमपि अकथयत् तत पर्राम् २०१९ तमैपि अवैध रूपेण बन्दीम् कृतवान स्म !

महबूबा ने आगे कहा वाहिद का इस आदमी के साथ कोई जुड़ाव नहीं है और उस पर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं ! पीडीपी और जम्मू – कश्मीर की मुख्यधारा की दूसरी पार्टियों को ब्लैकमेल और डराने के लिए ऐसा किया जा रहा है ! महबूबा ने यह भी कहा कि पर्रा को 2019 में भी अवैध रूप से गिरफ्तार किया गया था !

महबूबा मुफ्ती अकथयत् पुनरपि लोकतन्त्रे तस्य विश्वासम् डग्गमग्गम् नासीत् सः च् डीडीसी इति निर्वाचन योद्धस्य निर्णयम् कृतवान ! इदृशं प्रतीतं भवति तत यत् जनः स्व विश्वासम् लोकतंत्रस्य शक्तौ द्रक्ष्यते !

महबूबा मुफ्ती ने कहा फिर भी लोकतंत्र में उसका विश्वास डगमगाने वाला नहीं था और उसने डीडीसी चुनाव लड़ने का फैसला किया ! ऐसा प्रतीत होता है कि जो लोग अपना विश्वास लोकतंत्र की ताकत में दिखाएंगे !

ते एकम् शत्रुतापूर्णम् सांप्रदायिकम् सर्कारस्य प्रकोपम् अर्जितम् करिष्यति ! अहम् व्यक्तिगत रूपेण वाहिदस्य सद चरित्रस्य च् दृढ़कथनम् दाशक्नोति ! सम्प्रति अयम् न्यायपालिकायाम् अस्ति तत न्याय इति दातव्ये वाहिद पर्राम् च् शीघ्रात्शीघ्रम् मुक्तम् कर्तव्ये !

वे एक शत्रुतापूर्ण और सांप्रदायिक सरकार का प्रकोप अर्जित करेंगे ! मैं व्यक्तिगत रूप से वाहिद की सच्चाई और चरित्र की गारंटी दे सकती हूँ ! अब यह न्यायपालिका पर है कि न्याय दिया जाए और वाहिद पर्रा को जल्द से जल्द रिहा किया जाए !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article