32.1 C
New Delhi
Saturday, June 19, 2021

हिन्दू विरोधिन् मानसिकतास्यास्ति ममता सरकारम् – भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा: ! हिन्दू-विरोधी मानसिकता की है ममता सरकार – भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा !

Must read

भाजपास्य राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा: पश्चिम बंगस्य मुख्यमंत्री ममता बनर्जियाम् गुरुवासरम् तीक्ष्ण वारम् अबदत् ! नड्डा: ममता बनर्जी सरकारे हिन्दू विरोधिन् मानसिकता धारयेत् राज्ये च् राजनीतिक हिंसाम् वृद्धस्य आरोपम् आरोपयतु !

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर गुरुवार को तीखा हमला बोला ! नड्डा ने ममता बनर्जी सरकार पर हिन्दू विरोधी मानसिकता रखने एवं राज्य में राजनीतिक हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप लगाया !

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष: दृढ़ कथनम् अकरोत् तत इति राजनीतिक हिंसायाम् दलस्य शतात् अधिकम्म कार्यकर्तानि स्व प्राणम् उत्सादये ! राज्ये आगत् वर्षम् विधानसभा निर्वाचन भव्यते ! इति पश्यम् भाजपाम् टीएमसी ममता सरकारे च् स्व वारम् तीक्ष्ण कृतवान !

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दावा किया कि इस राजनीतिक हिंसा में पार्टी के 100 से ज्यादा कार्यकर्ता अपनी जान गंवा चुके हैं ! राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं ! इसे देखते हुए भाजपा ने टीएमसी एवं ममता सरकार पर अपना हमला तेज कर दिया है !

दलस्य नवगठित राज्य समितिम् चित्रपट द्रुत सम्मेलनेन सम्बोधित कृतं नड्डा: अकथयत् पंच अगस्त तः यदा सम्पूर्ण देश अयोध्यायाम् राम मन्दिरस्य भूमि पूजनम् पश्यन्ति स्म तर्हि ममता बनर्जी तम् दिवसम् पश्चिम बङ्गे लॉकडाउन इत्यस्य घोषणाम् कृतवती !

पार्टी की नवगठित राज्य समिति को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा पांच अगस्त को जब पूरा देश अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन देख रहा था तो ममता बनर्जी ने उस दिन पश्चिम बंगाल में लॉक डाउन की घोषणा कर दी !

सा इयम् अतएव अकरोत् कुत्रचित सा न इच्छति स्म तत स्थानीय स्तरे जनाः धार्मिक कार्यक्रमानां अंशम् अनिर्मयत् ! अस्य सत विपरीतम् बकरीदस्य अवसरे लॉकडाउन इति निवार्यते ! इयम् बदति तत राज्य सर्कारस्य नीतिनि हिन्दू विरोधिन् मानसिकता तुष्टिकरणस्य च् नितै: संचलितमस्ति !

उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वह नहीं चाहती थीं कि स्थानीय स्तर पर लोग धार्मिक कार्यक्रमों का हिस्सा बनें ! इसके ठीक विपरीत बकरीद के मौके पर लॉकडाउन हटा लिया गया ! यह बताता है कि राज्य सरकार की नीतियां हिन्दू विरोधी मानसिकता एवं तुष्टिकरण की नीति से संचालित है !

अग्रिम् वर्षम् विधानसभा निर्वाचनस्य योजनां सम्मुखम् धरितम् भाजपा नेता अकथयत् वर्ष २०११ इत्यस्य निर्वाचने पश्चिम बङ्गे २ प्रतिशत मतेन सह ४ आसनानि प्राप्यत् !

अगले साल विधानसभा चुनाव का रोडमैप सामने रखते हुए भाजपा नेता ने कहा साल 2011 के चुनाव में पश्चिम बंगाल में 2 प्रतिशत वोट के साथ 4 सीटें मिलीं !

वर्ष २०१४ तमे वयं द्वय आसनौ प्राप्तानि तु मत प्राप्त बर्धित्वा १८ प्रतिशते अप्राप्तन् ! वर्ष २०१९ तमस्य लोकसभा निर्वाचने दलस्य मत प्राप्त बर्धित्वा ४० प्रतिशते अप्राप्तन् ! वयं इति गतया अग्रम् बर्धनम् टीएमसी इतम् च् पराजयेत् !

साल 2014 में हमें दो सीटें मिलीं लेकिन वोट शेयर बढ़कर 18 प्रतिशत पर पहुंच गया ! साल 2019 के लोकसभा चुनाव में पार्टी का वोट शेयर बढ़कर 40 प्रतिशत पर पहुंच गया ! हमें इसी गति से आगे बढ़ना और टीएमसी को हराना है !

केचन दिवसानि पूर्वम् विश्व भारती विश्वविद्यालय परिसरे अभवत् विवादस्य उल्लेख कृत: भाजपास्य राष्ट्रीय अध्यक्ष: टीएमसी इते जिह्वेन प्रहारम् कृत: ! सः आरोपम् आरोपयतु तत टीएमसी इत्यस्य सरकार राज्ये भ्रष्टाचारम् वृद्धिम् ददाति ! अत्रैव तत रवीन्द्र नाथ टैगोरस्य विरासतम् शांति निकेतनमपि सुरक्षितम् नास्ति !

कुछ दिनों पहले विश्व भारती विश्वविद्यालय परिसर में हुए हंगामे का जिक्र करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने टीएमसी पर हमला बोला ! उन्होंने आरोप लगाया कि टीएमसी की सरकार राज्य में भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रही है ! यहां तक कि रवींद्र नाथ टैगोर की विरासत शांति निकेतन भी सुरक्षित नहीं है !

भाजपास्य राष्ट्रीय अध्यक्ष: ममतायाम् आरोपम् आरोपयतु तत मुख्यमंत्री केन्द्रस्य योजनानां लाभ राज्यस्य जनानि एव न प्राप्तम् ददाति ! सः अकथयत् तत आयुष्मान भारत योजनाया: लाभ बंगस्य पात्र ४.५७ कोटि जनानि न प्राप्यते !

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने ममता पर आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री केंद्र की योजनाओं का लाभ राज्य के लोगों तक नहीं पहुंचने दे रही हैं ! उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना का लाभ बंगाल के पात्र 4.57 करोड़ लोगों को नहीं मिल पाया है !

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article