23.1 C
New Delhi
Saturday, November 26, 2022

नव शिक्षा नीते ब्रूयात् पीएम मोदी:, इयमस्ति वास्तविक शिक्षा नीति ! नई शिक्षा नीति पर बोले पीएम मोदी, यह है वास्तविक शिक्षा नीति !

Most Popular

राष्ट्रीय शिक्षा नीति २०२० तेषां च् परिवर्तनशीलम् प्रभावस्य विषये अद्य (सोमवासरम्, ७ सितंम्बर) एकम् सम्मेलनस्य अयोजनम् क्रियते, यस्मिन् राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद:, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक: च् चित्रपट वार्तेन सम्मिलितम् अभवत् !

राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति 2020 और उसके परिवर्तनकारी प्रभाव के विषय पर आज (सोमवार, 7 सितंबर) एक सम्‍मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिये शामिल हुए !

यस्मिन् विविध राज्यानां राज्यपाल विश्वविद्यालयानां कुलपति अपि च् प्रतिभागयति ! पीएम मोदी: सम्मेलनम् सम्बोधितम् अकथयत् तत शिक्षा नीतेन यति शिक्षकम्, अभिभावकम्, छात्रम् सम्मिलिष्यति, यतेव अस्य प्रासंगिकताम् व्यापकतां बर्धयिष्यति !

इसमें विभिन्‍न राज्‍यों के राज्‍यपाल और विश्‍वविद्यालयों के कुलपति भी हिस्‍सा ले रहे हैं ! पीएम मोदी ने सम्‍मेलन को संबोध‍ित करते हुए कहा कि श‍िक्षा नीति से जितना शिक्षक, अभिभावक, छात्र जुड़े होंगे, उतनी ही इसकी प्रासंगिकता और व्यापकता बढ़ेगी !

ज्ञान धनम् निर्मितस्य प्रयत्नम् !

नॉलेज इकोनोमी बनाने के प्रयास !

सम्मेलनम् सम्बोधितम् पीएम मोदी: अकथयत् तत एकविंशति सदे भारतम् वयं एकम् ज्ञान धनम् निर्मितस्य प्रयत्नते ! नव शिक्षा नीतिम् प्रतिभा पलायन यथा समस्यानि हलम् कृताय सामान्य कुटुंबानां युवेभ्यः अपि साधु अंतरराष्ट्रीय संस्थानस्य शिक्षणपरिसरम् भारते स्थापित कृतस्य मार्गम् प्रशस्ते !

सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 21वीं सदी में भारत को हम एक नॉलेज इकोनोमी बनाने की कोशिशें जारी हैं ! नई शिक्षा नीति ने प्रतिभा पलायन जैसी समस्‍याओं को हल करने के लिए और सामान्य परिवारों के युवाओं के लिए भी बेहतरीन अंतरराष्‍ट्रीय संस्‍थान के कैंपस भारत में स्थापित करने का रास्ता खोला है !

नव शिक्षा नीते वस्तुते माभारस्य, माभावम् माप्रभावस्य च् शिक्षणस्य लोकतांत्रिक मुल्याणि शिक्षा व्यावस्थास्य अंशम् निर्मयते !

नई शिक्षा नीति में सही मायने में बिना दबाव के, बिना अभाव और बिना प्रभाव के सीखने के लोकतांत्रिक मूल्यों को शिक्षा व्‍यवस्‍था का हिस्सा बनाया गया है !

मौलिक शिक्षे ध्यानम् !

मौलिक शिक्षा पर फोकस !


पीएम मोदी: अकथयत् तत दीर्घकालेन इयम् वार्तानि उदतिष्ठयते तत अस्माकं शिशुनि पुस्तक थैलाम् परिक्षानां भारनिच्चै, परिवारम् समाजस्य च् भारनिच्चै भारयते ! इति नियमे इति समस्याम् प्रभावी प्रकारेण रेखांकित क्रियते !

पीएम मोदी ने कहा कि लंबे समय से ये बातें उठती रही हैं कि हमारे बच्चे बैग और परीक्षाओं के बोझ तले, परिवार और समाज के दबाव तले दबे जा रहे हैं ! इस पॉलिसी में इस समस्या को प्रभावी तरीके से रेखांकित किया गया है !

यस्मिन् मौलिक शिक्षा भाषे चापि ध्यानमस्ति ! यस्मिन् छात्राणां शिक्षणेन गृहित्वा शिक्षकानां प्रशिक्षणे अपि ध्यानम् केन्द्रितम् क्रियते ! प्रत्येकेव शिक्षास्य प्राप्तम् सुनिश्चितम् कृतं समुचित मुल्यांकनम् च् गृहित्वापि सुधारम् क्रियते ! यस्मिन् प्रत्येक छात्राणि सशक्त कृतस्य मार्गम् दृश्यते !

इसमें मौलिक शिक्षा और भाषा पर भी फोकस है ! इसमें छात्रों के सीखने से लेकर शिक्षकों के प्रशिक्षण पर भी ध्‍यान केंद्रित किया गया है ! हर किसी तक शिक्षा की पहुंच सुनिश्चित करने और समुचित मूल्‍यांकन को लेकर भी सुधार किए गए हैं ! इसमें हर छात्रों को सशक्‍त करने का रास्ता दिखाया गया है !

युवानि निर्मिष्यति नव शिक्षा नीतिम् !

युवाओं को तैयार करेगी नई शिक्षा नीति !

प्रधानमंत्री अकथयत् तत नव शिक्षा नीति अध्ययनस्यातिरिक्तम् शिक्षणे प्रयत्नते ! पाठ्यक्रमेन अग्रम् च् बर्धित्वा चिंतने ध्यानम् करोति ! नव शिक्षा नीति युवानि तेषां भविष्यस्य आवश्यक्तानि ध्याने कृतं ज्ञानम् कौशलम् च्, द्वयो स्थानयो निर्मिष्यति !

प्रधानमंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति अध्‍ययन की बजाय सीखने पर जोर देती है ! पाठ्यक्रम से और आगे बढ़कर चिंतन पर फोकस करती है ! नई शिक्षा नीति युवाओं को उनकी भविष्‍य की आवश्‍यकताओं को ध्‍यान में रखते हुए ज्ञान और कौशल, दोनों मोर्चों पर तैयार करेगी !

अद्य विश्वे येन प्रकारम् रोजगारस्य कार्यस्य च् विधिम् गृहित्वा चर्चाम् भवति, तेन पश्यमपि अस्य प्रासंगिकतां बर्ध्यते ! पीएम मोदी: अकथयत् तत नव शिक्षा नीति, सर्कारस्य न, अपितु देशस्य शिक्षा नीतेस्ति, उचित तम् प्रकारम् यथा कश्चित् देशस्य विदेश नीति रक्षा नीति वा भवति !

आज दुनिया में जिस तरह रोजगार और काम काज के तौर तरीकों को लेकर चर्चा हो रही है, उसे देखते हुए भी इसकी प्रासंगिकता बढ़ जाती है ! पीएम मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति, सरकार की नहीं, बल्कि देश की शिक्षा नीति है, ठीक उसी तरह जैसे किसी देश की व‍िदेश नीति या रक्षा नीति होती है !

Want to express your thoughts, write for us contact number: +91-8779240037

Disclaimer The author is solely responsible for the views expressed in this article. The author carry the responsibility for citing and/or licensing of images utilized within the text. The opinions, facts and any media content in them are presented solely by the authors, and neither Trunicle.com nor its partners assume any responsibility for them. Please contact us in case of abuse at Trunicle[At]gmail.com

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

This is Gyan