20.7 C
New Delhi

अहम् न वसानि तर्हि शिवसेना कांग्रेसम् निर्मिष्यति – स्व. बाला साहेब ठाकरैस्य भविष्यवाणीम् ! मैं न रहा तो शिवसेना कांग्रेस बन जाएगी – स्व. बाला साहेब ठाकरे की भविष्यवाणी !

Date:

Share post:

कंगना रनौतया: शिवसेने प्रहारम् तीक्ष्ण अभवत् ! कंगना सम्प्रति शिवसेनास्य पूर्व प्रमुखः स्वर्गीय बाला साहेब ठाकरैस्य चित्रपट अवितरिते ! यस्मिन् रजत शर्मास्य प्रश्ने बाला साहेब ठाकरे: कांग्रेसेन सह गठबंधनस्य कथन कथयति !

कंगना रनौत का शिवसेना पर हमला तेज हो गया है ! कंगना ने अब शिव सेना के पूर्व प्रमुख स्वर्गीय बाला साहेब ठाकरे का वीडियो शेयर किया है ! जिसमें रजत शर्मा के प्रश्न पर बाला साहेब ठाकरे कांग्रेस के साथ गठबंधन की बात कहते हैं !

कंगना रनौत बाला साहेब ठाकरैस्य चित्रपट वितरित: अलिखत्, महान बाला साहेब ठाकरे: मम प्रिय आइकॉन इतिसन्ति ! तस्य सर्वात् वृहद भयमसीत् तत एक दिवसं शिवसेना गठबंधन करिष्यते कांग्रेस निर्मिष्यते च् !

कंगना रनौत ने बाला साहेब ठाकरे का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, महान बाला साहेब ठाकरे मेरे पसंदीदा आइकॉन हैं ! उनका सबसे बड़ा डर था कि एक दिन शिवसेना गठबंधन कर लेगी और कांग्रेस बन जाएंगी !

कंगना अग्र लिखति, अहम् इयम् ज्ञायम् इच्छामि तत अद्य सः भवति तर्हि स्व दलस्य स्थितिम् पश्यित्वा कीदृशीम् आभासयति ? चित्रपटे बाला साहेब ठाकरे: कथयति, अहमस्मि तथापि अद्यैव दलम् अवशेषते ! न तर्हि ततपि कांग्रेसम् निर्मिष्यते !

कंगना आगे लिखती हैं, मैं ये जानना चाहती हूँ कि आज वह होते तो अपनी पार्टी की हालत देखकर कैसा महसूस करते ? वीडियो में बाला साहेब ठाकरे कह रहे हैं, मैं हूँ तभी आज तक पार्टी बची हुई है ! वरना वह भी कांग्रेस बन जाएगी !

सोनिया गांध्या कंगना अपृच्छत् प्रश्नम् !

सोनिया गांधी से कंगना ने पूंछा सवाल !

कंगना रनौत एकम् द्वितीये ट्वीते कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांध्या प्रश्नम् अपृच्छत् कंगना अलिखत् प्रिय आदरणीय कांग्रेसस्य अध्यक्ष सोनिया गांधी महोदया, एक महिला भवस्य कारणम् भवती महाराष्ट्रे भवत्याः सरकारेन मया सह अभवत् व्यवहारेण पीड़िता नास्ति ?

कंगना रनौत ने एक दूसरे ट्वीट में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से सवाल पूछा है कंगना ने लिखा प्रिय आदरणीय कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी जी, एक महिला होने के नाते आप महाराष्ट्र में आपकी सरकार द्वारा मेरे साथ हुए व्यवहार से पीड़ित नहीं हैं ?

काभवती डॉ. अम्बडकरेन वयं अददात् संविधानस्य सिंद्धांतानि निर्मिताय स्व सरकारेन अनुरोधम् न कृतशक्नोति ? भवती पश्चिमे पालयते भारते च् वसति ! भवती महिलानां संघर्षेन अवगत भवशक्नोति !

क्या आप डॉ. अंबेडकर द्वारा हमें दिए गए संविधान के सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए अपनी सरकार से अनुरोध नहीं कर सकतीं ? आप पश्चिम में पली बढ़ी हैं और भारत में रहती हैं ! आप महिलाओं के संघर्ष से अवगत हो सकती हैं !

यदा भवत्याः स्वयमस्य सरकार महिलानां उत्पीड़नम् करोति विधि व्यवस्थाम् च् उपहासयति तर्हि इतिहास भवत्याः मूकपन उदासीनतास्य च् न्यायम् करिष्यति ! मह्यं आशामस्ति तत भवती हस्तक्षेपम् करिष्यति !

जब आपकी खुद की सरकार महिलाओं का उत्पीड़न कर रही है और कानून और व्यवस्था का मजाक उड़ा रही है तो इतिहास आपकी चुप्पी और उदासीनता का न्याय करेगा ! मुझे उम्मीद है कि आप हस्तक्षेप करेंगी !

कंगना रनौत इत्येन पूर्वम् सोशल मीडिये घोषणाम् अकरोत् स्म तत सा कार्यालयस्य जीर्णोद्धारं न करिष्यते ! कंगना लिखति कार्यालयम् जीर्णोद्धाराय मम पार्श्व धनम् नास्ति, अहम् अस्य खण्डहरेषु कार्यम् करिष्यति ! इयम् त्रोटयत् कार्यालयम् एकम् महिलायाः इच्छास्य प्रतीकमस्ति, य: इति विश्वे उत्थानस्य साहसम् प्रदर्शयते !

कंगना रनौत ने इससे पहले सोशल मीडिया पर ऐलान किया था कि वह ऑफिस की मरम्मत नहीं कराएंगी ! कंगना लिखती हैं ऑफिस को रिनोवेट करने के लिए मेरे पास पैसे नहीं है, मैं इन्हीं खंडहरों में काम करुंगी ! ये टूटा हुआ ऑफिस एक महिला की इच्छा का प्रतीक है, जिसने इस दुनिया में उठने का साहस दिखाया है !

कंगनाया: समर्थने आगतवन हिमाचल सरकार !

कंगना के समर्थन में आयी हिमाचल सरकार !

कंगनया सह अभवत् घटनस्य अवलोकित कृत हिमाचल प्रदेशस्य मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर: आक्रोश व्यक्त कृतं ट्वीतरे अलिखत् वयं हिमाचलस्य जायास्य अपमानम् सहनम् न कृतशक्नुम: !

कंगना के साथ हुए घटना को अवलोकित कर हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आक्रोश व्यक्त करते हुए ट्विटर पर लिखा हम हिमाचल की बेटी का अपमान सहन नहीं कर सकते !

महाराष्ट्र सर्कारम् हिमाचलस्य जायाम् कंगना रनौतया सह यत् राजनीतिक प्रतिशोधस्य भावनया अत्याचारम् अकरोत् इयम् अत्यंत चिंतापूर्ण निंदास्पद चस्ति ! अस्माकं सरकार देशस्य जनानि वा इति घटनाक्रमे हिमाचलस्य जाया कंगनया सह स्थास्ति !

महाराष्ट्र सरकार ने हिमाचल की बेटी कंगना रनौत के साथ जो राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से अत्याचार किया है यह अत्यंत चिंताजनक एवं निंदनीय है ! हमारी सरकार व देश की जनता इस घटनाक्रम में हिमाचल की बेटी कंगना के साथ खड़ी है !

महाराष्ट्रस्य पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस: अपि अपृच्छत् महाराष्ट्र सरकारेण प्रश्नम् !

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी पूंछा महाराष्ट्र सरकार से प्रश्न !

पूर्व मुख्यमंत्री महाराष्ट्र: अकथयत् इति पूर्ण प्रकरणम् अति वृद्धिम् किं दीयते ! कंगना कश्चित राष्ट्रीय प्रकरणम् नास्ति तु भवान् येन वृहद अरचयत् ! भवतः सरकार तत्र गच्छतु तया कार्यालयम् अत्रोटयत् ! शिवसेनाम् कंगना प्रकरणम् क्षुद्रस्य वृहद अरचयत् ! सा कश्चित राज नेता नास्ति !

पूर्व मुख्यमंत्री महाराष्ट्र ने कहा इस पूरे मामले को इतना तूल क्यों दिया जा रहा है ! कंगना कोई राष्ट्रीय मुद्दा नहीं है लेकिन आपने इसे बड़ा बना दिया ! आपकी सरकार वहां गई और उसके दफ्तर को तोड़ दिया ! शिवसेना ने कंगना मामले को तिल का ताड़ बना दिया ! वह कोई राज नेता नहीं है !

भवान् दाऊदस्य गृहम् त्रोटनाय गच्छतु तु तया कार्यालयम् अत्रोटयत् ! स्व विरुद्धम् वार्ता कृतानि वयं मार्गेषु अवरुद्धस्य ताडिष्यति ईदृशम् च् सर्कारस्य समर्थेन भविष्यति, ईदृशम् महाराष्ट्रस्य इतिहासे कदापि न अभवत् ! सर्कारस्य इति कार्यवाहिस्य कारणम् महाराष्ट्रस्य देशे अपमानम् भवति !

आप दाऊद का घर तोड़ने नहीं गए लेकिन उसके ऑफिस को तोड़ दिया ! अपने खिलाफ बात करने वालों को हम रास्ते में रोक के मारेंगे और ऐसा सरकार के समर्थन से होगा, ऐसा महाराष्ट्र के इतिहास में कभी भी नहीं हुआ ! सरकार के इस कार्रवाई के कारण महाराष्ट्र का देश में अपमान हो रहा है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

Indian student Jaahnavi Kandula Murder Case: US police officer who killed her freed by the Court

In a shocking turn of event the Seattle police officer who struck and killed Indian student Jaahnavi Kandula...

Darul Uloom Deoband Issues Fatwa Endorsing ‘Ghazwa-E-Hind’, calls it a command from Allah: NCPCR chief demands strict action

In a controversial move, Darul Uloom Deoband, one of India's largest Islamic seminaries, has issued a fatwa endorsing...

Manipur CM is vows to deport post-1961 settlers from the State, is Manipur implementing the NRC?

Manipur chief minister N Biren Singh announced on Monday that individuals who arrived and established residence in the...

Farmers Protest 2.0 : An unending Saga of IMPRACTICAL Demands which will prove DISASTROUS to the Indian Economy

Farmers Protest 2.0 is in motion. Nearly two years after farmers, mainly from Punjab, Haryana and Western Uttar...