36.8 C
New Delhi

मृत्यु इत्यस्य क्रीड़ा लोकतन्त्रे न चरशक्नोति- पीएम नरेंद्र मोदी: ! मौत का खेल लोकतंत्र में नहीं चल सकता – पीएम नरेंद्र मोदी !

Date:

Share post:

बिहारे प्राप्यत् विजयस्य भारतीय जनता दलम् हस्तिनापुरे भव्य उत्सवम् मान्यते ! कार्यकर्ताभि: गृहित्वा दलस्य शीर्ष नेतारैव भाजपा मुख्यालये एकत्रित अभवत् ! प्रधानमंत्री: नरेंद्र मोदी: अपि अत्र अप्राप्तम् सः च् सम्बोधितमपि कृतवान !

बिहार में मिली जीत का भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने दिल्ली में भव्य जश्न मनाया ! कार्यकर्ताओं से लेकर पार्टी के शीर्ष नेता तक भाजपा मुख्यालय में जुटे ! प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी यहां पहुंचे और उन्होंने संबोधित भी किया !

पीएम मोदी: बिहारस्य जनानां तर्हि धन्यवादम् ज्ञापयतु एव सहैव अबदतु तत अंतम् किं देशस्य जनाः सम्प्रति भाजपाम् चिनोति ! ताः परिवारवादम् बर्धनम् दलेषु लक्ष्यम् अलक्ष्यत् सहैव देशस्य युवाभि: याचनाम् कृतं तत ते भाजपाया संलग्न्यत् देशस्य सेवां कुर्यातु !

पीएम मोदी ने बिहार की जनता का तो धन्यवाद किया ही, साथ ही बताया कि आखिर क्यों देश की जनता अब बीजेपी को ही चुन रही है ! उन्होंने परिवारवाद को बढ़ावा देने पार्टियों पर निशाना साधा साथ ही देश के युवाओं से अपील की कि वे भाजपा से जुड़ देश की सेवा करें !

पीएम मोदी: स्व सम्बोधने अकथयत् एकविंशतीनि सदियाः भारतस्य नागरिकम्,पुनः -पुनः स्व सन्देशम् स्पष्टम् कुर्वन्ति ! सम्प्रति सेवायाः अवसरम् तेनैव प्राप्यिष्यति, यत् देशस्य विकासस्य लक्ष्येन सह निष्ठावानेन कार्यम् करिष्यति !

पीएम मोदी ने अपने सम्बोधन में कहा 21वीं सदी के भारत के नागरिक, बार-बार अपना संदेश स्पष्ट कर रहे हैं ! अब सेवा का मौका उसी को मिलेगा, जो देश के विकास के लक्ष्य के साथ ईमानदारी से काम करेगा !

प्रत्येक राजनीतिक दलेन देशस्य जनानां इयमेव अपेक्षामस्ति तत देशाय कार्यम् कुर्यात्, देशस्य कार्येण सम्बंधम् धारयतु ! अद्य भाजपा एव देशस्य एकमात्र राष्ट्रीय दलमस्ति, यस्मिन् निर्धन पीड़ित,शोषित,वंचित इत्यानि स्व प्रतिनिधित्वम् पश्यन्ति !

हर राजनीतिक दल से देश के लोगों की यही अपेक्षा है कि देश के लिए काम करो, देश के काम से मतलब रखो ! आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है, जिसमें गरीब, दलित, पीड़ित, शोषित, वंचित, अपना प्रतिनिधित्व देखते हैं !

अद्य भाजपा एव देशस्य एकमात्र राष्ट्रीय दलमस्ति, यत् समाजस्य प्रत्येक वर्गस्य आवश्यकतानि ज्ञायति, तेभ्यः कार्यम् करोति ! अद्य भाजपा एव एकमात्र दलमस्ति यत् राष्ट्रीय इच्छेभ्यः सहैव प्रत्येक क्षेत्रस्य गौरवमपि तैव गर्वेण सह स्व सह गृहित्वा चलति !

आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है, जो समाज के हर वर्ग की आवश्यकताओं को समझती है, उनके लिए काम कर रही है ! आज भाजपा ही एकमात्र पार्टी है जो राष्ट्रीय आकांक्षाओं के साथ ही हर क्षेत्र के गौरव को भी उतने ही गर्व के साथ अपने साथ लेकर चलती है !

देशस्य युवानि सर्वात् अधिकम् विश्वासम् कश्चिताषु अस्ति तर्हि तत भाजपास्ति ! दलितानां,पीड़ितानां,शोषितानां यदि कश्चित स्वरमस्ति,तर्हि तत भाजपास्ति ! अहम् बिहारस्य स्व भ्रातानि भागिन्या च् कथयिष्यामि, भवान् एकदा पुनः सिद्धम् कृतवान तत बिहार किं लोकतंत्रस्य भूमिम् कथ्यते !

देश के नौजवानों को सबसे ज्यादा भरोसा किसी पर है तो वो भाजपा है ! दलितों,पीड़ितों शोषितों की अगर कोई आवाज है, तो वो भाजपा है ! मैं बिहार के अपने भाइयों और बहनों से कहूंगा, आपने एक बार फिर सिद्ध किया है कि बिहार क्यों लोकतंत्र की जमीन कहा जाता है !

भवान् पुनः सिद्धम् कृतवान तत वास्तव,बिहार निवासिन् ज्ञानवानमपि सन्ति जागरूकमपि च् !देशस्य युवाभिः मम आह्वानमस्ति,ताः अग्रम् आगच्छतु भाजपाया: च् माध्यमेन देशस्य सेवायाम् संलग्न्यते ! स्व स्वप्नानि साकाराय,स्व संकल्पानि सिद्धाय,कमलं हस्ताषु गृहित्वा चलयतु !

आपने फिर सिद्ध किया है कि वाकई, बिहारवासी पारखी भी हैं और जागरूक भी ! देश के युवाओं से मेरा आह्वान है, वो आगे आएं और बीजेपी के माध्यम से देश की सेवा में जुट जाएं ! अपने सपनों को साकार करने के लिए, अपने संकल्पों को सिद्ध करने के लिए, कमल को हाथ में लेकर चल पड़ें !

दुर्भाग्येन कश्मीरात् कन्याकुमारी एव परिवार वादिन् दलानां जालम् लोकतंत्राय संकटम् निर्मयते ! इयम् देशस्य युवा पूर्ण रूपम् ज्ञायति ! कुटुंबानां दलानि परिवार वादिन् दलानि वा, लोकतंत्राय वृहद संकटम् सन्ति ! इदृशेषु भारतीय जनता दलस्य दायित्वम् अति बर्ध्यते !

दुर्भाग्य से कश्मीर से कन्याकुमारी तक परिवारवादी पार्टियों का जाल लोकतंत्र के लिए खतरा बनता जा रहा है ! ये देश का युवा भली – भांति जानता है ! परिवारों की पार्टियां या परिवारवादी पार्टियां, लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं ! ऐसे में भारतीय जनता पार्टी का दायित्व और बढ़ जाता है !

वयं स्व दले अभ्यांतरस्य लोकतंत्रम् सख्त निर्मयतु धारयते ! वयं स्व दलम् जीवंत लोकतंत्रस्य जीवंत उदाहरणम् निर्मीम् ! दलम् प्रत्येक कार्यकर्ताय प्रत्येक नागरिकाय अवसरानि एकम् उत्तम् स्थानम् अनिर्मयते ! भाजपाया: पार्श्व साइलेंट वोटर्स इत्यस्य एकम् वृहद समूहमस्ति यत् तेन पुनः-पुनः मतम् ददाति !

हमें अपनी पार्टी में भीतर के लोकतंत्र को मजबूत बनाएं रखना है ! हमें अपनी पार्टी को जीवंत लोकतंत्र का जीता-जागता उदाहरण बनाना है ! पार्टी हर कार्यकर्ता और हर नागरिक के लिए अवसरों का एक बेहतरीन मंच बने ! भाजपा के पास साइलेंट वोटर्स का एक बड़ा समूह है जो उसे बार-बार वोट दे रहा है !

अस्माकं देशस्य नार्याः, नारी शक्ति ममाय साइलेंट वोटर इत्यास्ति ! ग्रामीणात् नगरैव, नार्याः ममाय साइलेंट वोटर्स इत्यस्य सर्वात् वृहद समूहम् निर्मयते ! यदि अद्य भवान् मह्यं बिहारस्य निर्वाचन परिणामदा पृच्छष्यति तर्हि मम उत्तरमपि जनस्य जनादेशस्य इव स्वच्छमस्ति !

हमारे देश की महिलाएं, नारी शक्ति हमारे लिए साइलेंट वोटर है ! ग्रामीण से शहरी तक, महिलाएं हमारे लिए साइलेंट वोटर्स का सबसे बड़ा समूह बन गई हैं ! अगर आज आप मुझे बिहार के चुनाव नतीजों के बारे में पूछेंगे तो मेरा जवाब भी जनता के जनादेश की तरह साफ है !

बिहारे सर्वानां सहयोगम्-सर्वानां विकासम्, सर्वानां विश्वासस्य मन्त्रस्य विजयम् भव्यते !बिहारे विकासस्य कार्यानां विजयम् भव्यते ! बिहारे सद विजयति,विश्वासम् विजयति ! बिहारस्य युवा विजयति, मातरः-भगिन्या:- पुत्रिया: विजयन्ति ! बिहारस्य निर्धनम् विजयति,कृषकः विजयति !

बिहार में सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र की जीत हुई है ! बिहार में विकास के कार्यों की जीत हुई है ! बिहार में सच जीता है, विश्वास जीता है ! बिहार का युवा जीता है, माताएं-बहनें-बेटियां जीती हैं ! बिहार का गरीब जीता है, किसान जीता है !

इयम् बिहारस्य इच्छानां विजयमस्ति, बिहारस्य गौरवस्य विजयमस्ति ! येन प्रकारेण वयं जनता कर्फ्यू इत्येन अद्यैव इति महामारियाः साम्नां कृतवान तः इति निर्वाचन परिणामेषु परिलक्षित अभवत् ! कोविड इत्येन अरक्षयत् प्रत्येक जीवनम् भारताय एकम् सफलतायाः गाथामस्ति !

ये बिहार की आकांक्षाओं की जीत है, बिहार के गौरव की जीत है ! जिस तरह से हमने जनता कर्फ्यू से आज तक इस महामारी का मुकाबला किया है वह इन चुनाव परिणामों में परिलक्षित हुआ है ! कोविड से बचाया गया हर जीवन भारत के लिए एक सफलता की कहानी है !

देशस्य केचन अंशेषु तानि लगति तत भाजपाया: कार्यकर्तानि मृत्युस्य घट्टम् अवतृत्वा ते स्व इच्छाम् पूर्णम् करिष्यते ! अहम् तै: सर्वै: आग्रह पूर्वकम् मान्यस्य प्रयासमपि कुर्यामि !

देश के कुछ हिस्सों में उनको लगता है कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार कर वे अपने मनसूबे पूरे कर लेंगे ! मैं उन सभी से आग्रह पूर्वक समझाने का प्रयास भी करता हूँ !

मह्यं चेतम् दास्य आवश्यकतां नास्ति, तत कार्यम् जनता-जनार्दन इति करिष्यति ! निर्वाचन आगच्छन्ति,गच्छन्ति ! जयस्य- पराजयस्य क्रीड़ा भव्यते ! कदायम् तिष्ठष्यति, कदा तत् तिष्ठष्यति ! तु इयम् मृत्युस्य क्रीड़ा लोकतन्त्रे कदापि न चरशक्नोति !

मुझे चेतावनी देने की जरूरत नहीं है, वो काम जनता-जर्नादन करेगी ! चुनाव आते हैं, जाते हैं ! जय-पराजय का खेल होता रहा है ! कभी ये बैठैगा, कभी वो बैठेगा ! लेकिन ये मौत का खेल लोकतंत्र में कभी नहीं चल सकता है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

PM Modi warns about Congress’s EVIL ‘Wealth Redistribution to the Infiltrators’ idea, Why this idea will bring Doomsday for India?

A day after he triggered a political backlash by saying that a Congress government would distribute the nation’s...

PM Modi dropped a Political Bombshell, says ‘Congress will redistribute wealth to Muslim Infiltrators’

Prime Minister Narendra Modi, on April 21, dropped a Political bombshell, when he asserted that if the Congress...

Rohingya Terrorist groups holding over 1600 Hindus and 120 Buddhists hostage in Myanmar

In what seems to echo the 2017 massacre of Hindus by Rohingya terror groups in Myanmar's Rakhine state,...

Palghar Mob Lynching – ‘Hindu Hater’ Rahul Gandhi blocked the CBI probe proposed by Uddhav Thackeray Govt

Raking up the April 2020 Palghar mob lynching incident, in which two Sadhus and their driver were killed...