22.1 C
New Delhi

कंगना संजय राउतस्य वा मध्य प्रारम्भयते घमासानम्, उद्धव ठाकरे मौनम् ! कंगना व संजय राउत के बीच शुरू हुआ घमासान, उद्धव ठाकरे मौन !

Date:

Share post:

शिवसेना सांसद संजय राउत: चित्रपट अभिनेत्री कंगना रनौतस्य मध्य कलहम् बर्ध्यते ! द्वयेन प्रति बहु कथनानि भवत: ! राउत: कवि रूपे ट्वीट कृतं अलिखत्, मम साहसम् निरीक्षस्य मूर्खताम् न करोतु, पूर्वेपि बहु झंझावतानां स्थितिम् परिवर्तयतु !

शिवसेना सांसद संजय राउत और फिल्म एक्ट्रेस कंगना रनौत के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है ! दोनों तरफ से खूब बयानबाजी हो रही है। राउत ने शायराना अंदाज में ट्वीट करते हुए लिखा है, मेरी हिम्मत को परखने की गुस्ताखी न करना, पहले भी कई तूफानों का रूख मोड़ चुका हूँ !

येन सह सः जय महाराष्ट्रापि अलिखत् ! वस्तुतः इयम् प्रकरणम् तदा बर्ध्यत् यदा कंगना रनौत मुंबईस्य तुलनाम् पकिस्तान अधिकृतं कश्मीरेण (पीओके) कृतवान ! अस्य उपरांत द्वय प्रति बहु कथनानि भवत: !

इसके साथ उन्होंने जय महाराष्ट्र भी लिखा है ! दरअसल, ये मामला तब तूल पकड़ा जब कंगना रनौत ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) से कर दी ! इसके बाद दोनों तरफ से जमकर बयानबाजी हो रही है !

येन पूर्वम् राउत: कंगनाये असाधु शब्दस्यापि प्रयोगम् अकरोत्, यस्मिन् बहुनि आपत्तिम् व्यक्तम् कृतवान ! तेन यदा पृच्छेत् तत का सः क्षमाम् याचिष्यति तर्हि राउत: अकथयत्, यदि सा बालिका (कंगना रनौत) महाराष्ट्रेन क्षमाम् याचिष्यति, तर्हि अहम् अस्यदा विचारिष्यामि ! सा मुम्बईम् लघु पकिस्तान कथयति ! का अहमदाबाददापि इदमेव कथनस्य साहसमस्ति ?

इससे पहले राउत ने कंगना के लिए अपशब्द का भी प्रयोग किया, जिस पर कई ने आपत्ति जताई ! उनसे जब पूछा गया कि क्या वो माफी मांगेंगे तो राउत ने कहा, अगर वह लड़की (कंगना रनौत) महाराष्ट्र से माफी मांगेगी, तो मैं इसके बारे में सोचूंगा ! वह मुंबई को मिनी पाकिस्तान कहती है ! क्या अहमदाबाद के बारे में भी ऐसा ही कहने का साहस है ?

प्रतिउत्तरम् कृतं कंगना अकथयत्, २००८ तमे चित्रपट दस्यु: मह्यं मस्तिष्क विहीनम् घोषितवन्तः ! २०१६ तमे सः मह्यं प्रेतनी अकथयत् २०२० तमे च् स्टाकर इति अकथयत् महाराष्ट्रस्य मंत्रीम् मह्यं हरामखोर बालिका इति नाम अददात्, कुत्रचित अहम् अकथयत् तत एकम् हननस्य उपरांत अहम् मुंबई इते असुरक्षितम् स्वीकरोमि, कुत्रअस्ति असहिष्णुता वार्तास्य योद्धाम् ?

पलटवार करते हुए कंगना ने कहा, 2008 में मूवी माफिया ने मुझे साइको घोषित किया ! 2016 में उन्होंने मुझे चुड़ैल कहा और 2020 में स्टॉकर कहा महाराष्ट्र के मंत्री ने मुझे हरामखोर लड़की का खिताब दिया, क्योंकि मैंने कहा कि एक हत्या के बाद मैं मुंबई में असुरक्षित महसूस करती हूँ, कहां हैं असहिष्णुता बहस के योद्धा ?

कंगना पूर्वम् संजय राउते आरोपम् आरोपयत् स्म तत राउत: सा मुंबईम् नागमनस्य स्वतंत्र रूपम् भर्तस्कः ददाति ! रनौत ट्वीत अकरोत् स्म, मुम्बईम् पकिस्तानस्य अधिकृतं कश्मीर यथा किं प्रतीतयति !

कंगना ने पहले संजय राउत पर आरोप लगाया था कि राउत उन्हें मुंबई न आने की खुलेआम धमकी दे रहे हैं ! रनौत ने ट्वीट किया था, मुंबई पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर जैसा क्यों लग रहा है !

कंगना उपरांते ट्वीट कृतं अकथयत् तत सा ९ सितंम्बरम् मुम्बईम् प्राप्यति, कश्चितस्य पितु साहसम्अस्ति तर्हि अवरोधयते ! कंगनाया: इति कथने संजय राउत: प्रतिक्रियाम् अददात् स्म, संजय राउत: अकथयत् भवती (कंगना रनौत) महाराष्ट्रस्य अपकार कृतस्य प्रयत्नम् करोति !

कंगना ने बाद में ट्वीट करते हुए कहा कि वह 9 सितंम्बर को मुंबई पहुंच रही हैं, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले ! कंगना के इस बयान पर संजय राउत ने प्रतिक्रिया दी थी, संजय राउत ने कहा, आप ( कंगना रनौत) महाराष्ट्र का अपमान करने की कोशिश कर रही हैं !

सम्प्रति सोशल मीडिये चित्रपट प्रस्तुत कृतं कंगना अलिखत् संजय: मह्यं अभिव्यक्तिस्य पूर्ण स्वतंत्रतामस्ति , मह्यं स्व देशे कुत्रापि गमनस्य स्वतंत्रतामस्ति ! अहम् स्वतंत्रमस्मि ! संजय राउत: भवान् मह्यं हरामखोर बालिका इति कथयतु !

अब सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट करते हुए कंगना ने लिखा संजय जी मुझे अभिव्यक्ति की पूरी आजादी है, मुझे अपने देश में कहीं भी जाने की आजादी है ! मैं आजाद हूँ ! संजय राउत जी आपने मुझे हरामखोर लड़की कहा है !

भवान् एकम् सरकारी कर्मचारिम् अस्ति, एकम् मंत्रिम् अस्ति ! भवतः ज्ञातमस्ति तत इति देशे प्रतिदिनम् न, प्रति घटकम् बालिकानां मानवाधिकारस्य हननम् भवति ! तेषु तीक्ष्ण जलम् परिक्षालित्वा क्षिप्यते ! कार्यस्य स्थाने ता: अपशब्दम् दीयते ! ताषाम् पतिं कर्ण, नासिका, मुख हनुम् च् त्रोटयन्ति !

आप एक सरकारी मुलाजिम हैं, एक मंत्री है ! आपको पता है कि इस देश में हर दिन नहीं, हर घंटे लड़कियों के मानवाधिकार का हनन हो रहा है ! उन पर एसिड डालकर फेंक दिया जा रहा है ! काम की जगह पर उन्हें गालियां दी जा रही है ! उनके पति कान, नाक, मुंह और जबड़े तोड़ रहे हैं !

अस्मै जिम्मेवारम् अयम् मानसिकताम् अस्ति, यस्य असाधु प्रदर्शनम् भवान् पूर्ण समाजम् देशस्य च् सम्मुखम् अकरोत् ! अस्य देशस्य पुत्रया:भवतः क्षमाम् न करिष्यन्ति ! भवान् ता: सर्वाणि महिलानां शोषणम् कृतानां सशक्तिकरणम् अकरोत् !

इसके लिए जिम्मेदार ये मानसिकता है,जिसका भोंडा प्रदर्शन आपने पूरे समाज और देश के सामने किया है ! इस देश की बेटियां आपको माफ नहीं करेंगी ! आपने उन सभी महिलाओं का शोषण करने वालों का सशक्तिकरण किया है !

आमिर खान: यदा अकथयत् स्म तत सः इति देशे विभेति तर्हि तदा कश्चितः हरामखोर इति न अकथयत् स्म ! यदा नसीरुद्दीन शाह: अकथयत् स्म तम् कालम् सः कश्चितः हरामखोर इति न अकथयत् स्म !

आमिर खान जी ने जब कहा था कि उन्हें इस देश में डर लगता है तो तब किसी ने हरामखोर नहीं कहा था ! जब नसीरुद्दीन शाह ने कहा था उस वक्त उन्हें किसी ने हरामखोर नहीं कहा था !

भवान् मम पुरातन साक्षात्कारम् पश्यतु, अहम् मुम्बई आरक्षकस्य प्रशंसाम् कृतं न शिथिलयामि स्म ! अद्य यदा ते पालघरस्य हनने साधूनि न रक्षन्ति, उद्तिष्ठन्ति ! मुम्बई आरक्षकम् सुशांतस्य क्षीण पितु एफ आई आर न पंजीकृत करोति पुनः च् मम कथनम् पंजीकृतम् न करोति !

आप मेरे पुराने इंटरव्यू देख लीजिए, मैं मुंबई पुलिस की तारीफ करते हुए नहीं थकती थी ! आज जब वह पालघर की लिंचिंग में साधुओं को नहीं बचाते हैं, खड़े रहते हैं ! मुंबई पुलिस सुशांत के लाचार पिता की एफ आई आर नहीं दर्ज करते हैं या फिर मेरा बयान दर्ज नहीं करते हैं !

राउतस्य कथने संबित पात्रा: अपि अकरोत् प्रश्नम् !

राउत के बयान पर संबित पात्रा ने भी किया प्रश्न !

इयमेव तर्हि विश्वम् पृच्छति, अंतम् इदृशे कास्ति भवने यत् भवान् ड्रग, मृत्यु धोखा इति च् नामकम् झंझावतस्य स्थितिम् कश्चितापि व्यये परिवर्तयति इच्छसि !

यही तो दुनिया पूछ रही है, आख़िर ऐसा क्या है हवेली में जो आप Drugs,Death & Dhoka नामक तूफ़ान के रुख़ को किसी भी क़ीमत पर मोड़ना चाहते हो !

सम्प्रति हिमाचल प्रदेश सरकार करिष्यति कंगनाया: सुरक्षाम् !

अब हिमाचल प्रदेश सरकार करेगी कंगना की सुरक्षा !

कंगनाया: पितु आग्रहे हिमाचल सर्कारम् राज्ये कंगनाम् सुरक्षाम् उपलब्ध कृतस्य निर्णयम् लीयते ! हिमाचल प्रदेशस्य मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर: मीडियेन वार्ता कृतं अकथयत्, कंगना रनौतया: पिता लिखिते आरक्षकम् सुरक्षास्य याचनाम् क्रियते !

कंगना के पिता के आग्रह पर हिमाचल सरकार ने राज्य में कंगना को सुरक्षा मुहैया कराने का निर्णय़ लिया है ! हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मीडिया से बात करते हुए कहा, कंगना रनौत के पिता ने लिखित में पुलिस सुरक्षा की मांग की है !

अहम् इति सम्बन्धे आरक्षक महानिदेशकम् निर्देशित करोतु ! सा अत्र सुरक्षाम् प्रदायिष्यति ! वयं अयमपि चर्चाम् कुर्याम: तत हिमाचलस्य बाह्य सा सुरक्षाम् कृताय का कृतशक्नोति, कुत्रचित सा ९ सितम्बरम् मुंबई नगराय प्रस्थानयति !

मैंने इस संबंध में डीजीपी को निर्देशित किया है ! उन्हें यहाँ सुरक्षा प्रदान की जाएगी ! हम यह भी चर्चा कर रहे हैं कि हिमाचल के बाहर उन्हें सुरक्षा प्रदान करने के लिए क्या किया जा सकता है, क्योंकि वह 9 सितंबर को मुंबई के लिए रवाना हो रही है !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

Massive Make In India PUSH – Modi Govt approves three semiconductor proposals in Gujarat and Assam

The Modi Govt Cabinet on Thursday approved three semiconductor proposals amounting to ₹1,25,600 crore in value in Dholera...

Haryana Police Crack Down on Farmers protest: Passports and Visas of ‘Fake’ Farmers who damage government property will be cancelled

There is bad news for the farmers who are becoming part of the farmers movement part 2 on...

Anti-Indian British Author Nitasha Kaul Alleges Entry Denial and Subsequent Deportation from India was orchestrated by Modi Govt

Nitasha Kaul, a British writer of Indian origin and professor of politics at the University of Westminster in...

Indian student Jaahnavi Kandula Murder Case: US police officer who killed her freed by the Court

In a shocking turn of event the Seattle police officer who struck and killed Indian student Jaahnavi Kandula...