27.9 C
New Delhi

गवाम् कल्याणाय मध्यप्रदेश सर्कारस्य आरंभिक प्रयत्नं ! गायों के कल्याण के लिए मध्य प्रदेश सरकार की पहल !

Date:

Share post:

मध्यप्रदेशस्य मुख्यमंत्री: शिवराज सिंह चौहान: रविवासरम् अकथयत् तत सः राज्ये गवाम् कल्याणाय जनै: अवक्रयस्य रूपे एकम् न्यून मूल्यम् एकत्र कृते विचार्यन्ति !

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को कहा कि वह राज्य में गायों के कल्याण के लिए जनता से टैक्स के रूप में एक छोटी राशि एकत्र करने पर विचार कर रहे हैं !

चौहान: रविवासरम् अगार मालवा जनपदस्य सलारिया गौ अभ्यारण्ये गोपाष्टमीयाम् जनम् सम्बोधित: अकथयत् तत अहम् स्व भोजनस्य एकांशम् गोभ्यः श्वभ्यः च् खदनेन पूर्वम् ध्रीति स्म !

चौहान ने रविवार को अगार मालवा जिले के सलारिया गौ अभ्यारण्य में गोपाष्टमी पर जनता को संबोधित करते हुए कहा कि हम अपने भोजन का एक हिस्सा गायों और कुत्तों के लिए खाने से पहले रखते थे !

सम्प्रति इति परंपराया: पालनम् असाधारण प्रकरणेषु क्रियते ! अतएव, अहम् गवाम् कल्याणाय जनै: अवक्रयस्य रूपे एकम् न्यून मूल्यम् एकत्रित कृते विचार्यामि !

अब इस परंपरा का पालन केवल असाधारण मामलों में किया जाता है ! इसलिए, मैं गायों के कल्याण के लिए जनता से टैक्स के रूप में एक छोटी राशि एकत्र करने पर विचार कर रहा हूँ !

सीएम चौहान: उपस्थित जनै: प्रश्नम् कृतवान तत गौमातायाः कल्याणाय अन्य गौगोष्ठानां सद प्रकारेण संचालनाय केचन नाममात्र अवक्रय: आरोपणस्य प्रति विचार्यामि,कायम् उचितमस्ति ? जनाः अस्य सकारात्मकम् उत्तरं दत्तवान !

सीएम चौहान ने उपस्थित लोगों से सवाल किया कि गौमाता के कल्याण के लिए और गौ शालाओं के ढंग से संचालन के लिए कुछ मामूली टैक्स लगाने के बारे में सोच रहा हूँ,क्या यह ठीक है ? लोगों ने इसका सकारात्मक उत्तर दिया !

सः अयमपि घोषणाम् कृतं तत आंगनवाड़ीषु बालकानि गो: दुग्धम् पीयूषस्य सदृशं भवति ! अहम् निश्चयम् कृतवान तत आंगनवाड़ीषु बालकानि गो: दुग्धम् दाष्यते !

उन्होंने यह भी घोषणा की कि आंगनवाड़ियों में बच्चों को गाय का दूध दिया जाएगा ! सीएम शिवराज ने कहा कि गाय का दूध अमृत के समान होता है ! हमने तय किया है कि आंगनवाड़ियों में बच्चों को गाय का दूध दिया जाएगा !

आंगनबाड़ीयाम् बालकानि दत्तम् आहारस्य प्रति मुख्यमंत्री: अकथयत् तत बालकानि अंडकस्य अपेक्षाम् गो: दुग्धम्,यत् तत पीयूष सदृशमस्ति,दास्य निर्णयम् अगृह्यते ! इत्यात् गावः गौपालकानि च् लाभम् प्राप्यष्यति !

आंगनवाड़ी में बच्चों को दिए जाने वाले आहार के बारे में मुख्यमंत्री ने कहा कि बच्चों को अंडे के बजाय गाय का दूध, जो कि अमृत समान है, देने का निर्णय लिया गया है ! इससे गायों और गौ पालन करने वालों को लाभ मिलेगा !

सः अकथयत् तत येन गृहेषु गौ: पाल्यते तत्र सदैव सकारात्मकं उर्जाम् संचयम् भवति ! सहैव सः अकथयत् तत मूर्तयः दीपा: च् सम्प्रति गो: गोर्वरेण रचयत:,यत् पर्यावरणस्य अनुकूलं अप्यास्ति !

उन्होंने कहा कि जिस घरों में गाय पाली जाती हैं वहां हमेशा सकारात्मक ऊर्जा भरा होता है ! साथ ही उन्होंने कहा कि मूर्तियां और दीये अब गाय के गोबर से बनाए जा रहे हैं, जो पर्यावरण के अनुकूल भी है !

चौहान: अकथयत् तत मध्यप्रदेश सर्कारम् लगभगम् २००० नव गोभ्यः आश्रयस्थलस्य निर्माणम् करिष्यति असरकारी संगठनमपि च् तस्मिनेन केचनस्य संचालनम् करिष्यति ! चौहान: अकथयत् तत मध्यप्रदेशे लगभगम् ७ लक्षात् ८ लक्ष परिभ्रमी पशवा: सन्ति ! राज्य सर्कारम् लगभगम् २००० नव गौ आश्रमाणां निर्माणम् करिष्यति !

चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश सरकार करीब 2,000 नए गायों के लिए आश्रय स्थल का निर्माण करेगी और गैर सरकारी संगठन भी उनमें से कुछ का संचालन करेंगे ! चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में करीब 7 लाख से 8 लाख आवारा मवेशी हैं ! राज्य सरकार करीब 2,000 नए गौ आश्रमों का निर्माण करेगी !

अस्य अतिरिक्त सः अकथयत् तत प्रदेशे गौशाला संचालनाय एकम् विधि निर्मिष्यते जनपदाधिकारिणि प्रत्येक गौशाला संचालनाय एकम् मुख्याधिकारी नियुक्त कृतस्य निर्देशम् अदत्तवान ! मुख्यमंत्री: अबदत् तत प्रदेशे २००० गौशालानि निर्मिष्यते एतानि च् सामाजिक संस्थानां सहयोगेण संचलितम् करिष्यते !

इसके अलावा उन्होंने कहा कि प्रदेश में गौशाला संचालन के लिए एक कानून बनाया जाएगा और जिला कलेक्टरों को प्रत्येक गौशाला के संचालन के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त करने का निर्देश दिया गया है ! मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में 2,000 गौ शालाएं बनाई जाएंगी तथा इन्हें सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से संचालित किया जाएगा !

मुख्यमंत्री: अकथयत् तत समाजम् गवाम् रक्षायाम् सर्कारस्य सहयोगम् करणीय ! प्रथमं गवामाधिः कृषि असम्भवमासीत्,तु ट्रैक्टर इत्यानि कृषिम् अपरिवर्तयते ! सः अकथयत् तत गवाम् दुग्धम् दत्तम् स्थगिते जनः गा: परित्यक्तयति ! अतएव लक्षाणि गावः मार्गेषु परिभ्रमन्ति ! इति गवाम् गौ अभ्यारणे आश्रयं प्राप्यष्यति !

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज को गायों की रक्षा में सरकार की मदद करनी चाहिए ! पहले गायों के बिना कृषि असंभव थी, लेकिन ट्रेक्टरों ने खेती को बदल दिया है ! उन्होंने कहा कि गायों के दूध देना बंद करने पर लोग गायों को छोड़ देते हैं ! इसलिए लाखों गाएं सड़कों पर भटक रही हैं ! इन गायों को गौ अभ्यारण में आश्रय मिलेगा !

सः अकथयत् तत गौ: गोर्वरस्य बहु उपयोगम् भवन्ति अयम् च् पर्यावरणस्य रक्षणे सहायकम् भवति ! काष्ठस्य स्थाने गौकाष्ठस्य उपयोगम् कृतेन पर्यावरणस्य रक्षणम् भविष्यति साधु वर्षामपि भविष्यति ! सः अकथयत् तत अहम् पर्यावरणम् रक्षिष्यामः !

उन्होंने कहा कि गाय के गोबर के कई उपयोग होते हैं और यह पर्यावरण की रक्षा करने में सहायक होता है ! लकड़ी के स्थान पर गौकाष्ठ का उपयोग करने से पर्यावरण की रक्षा होगी और अच्छी वर्षा भी होगी ! उन्होंने कहा कि वयं पर्यावरण को बचाना होगा !

यूरिया डीएपी इति च् उर्वरकस्य उपयोगम् भूम्यै मंथरविष यथास्ति ! यद्यपि गोर्वरस्य उर्वरक भूम्यै पीयूषस्य सदृश कार्यम् करोति ! यदि रासायनिक उर्वरकानां उपयोगम् दीर्घ कालैव क्रियते तर्हि भूमौ गोधूमस्य शष्यस्य उत्पादनम् न भविष्यति !

यूरिया और डीएपी खाद का उपयोग धरती के लिये धीमे जहर जैसा है ! जबकि गोबर की खाद धरती के लिए अमृत की तरह काम करता है ! यदि रासायनिक उर्वरकों का उपयोग लंबे समय तक किया जाता है तो भूमि में गेंहूं की फसल का उत्पादन नहीं होगा !

मुख्यमंत्री: अकथयत् तत गौमूत्रेण निर्मितम् औषधि बहु आमाणि क्षेम कृतशक्नोति ! इदृशी बहु औषधय: गौ अभ्यारणेषु निर्मयन्ति ! सः अकथयत् तत आंग्ल औषधय: तर्हि आमाणि अधिकम् संचयन्ति ! अतएव कश्चित इयम् न विचार्यत् तत गौ: साधु नास्ति ! गौ: अवशिष्यते तर्हि इयम् भूमि: अवशिष्यते ! इयम् स्मरयते !

मुख्यमंत्री ने कहा कि गौमूत्र से बनी दवा कई बीमारियों को ठीक कर सकती है ! ऐसी कई दवाईयां गौ अभ्यारणो में बनाई जा रही हैं ! उन्होंने कहा कि अंग्रेजी दवाईयां तो बीमारी ज्यादा लाती हैं ! इसलिये कोई ये ना सोचे कि गाय बेकार हैं ! गाय बचेगी तो ये धरती बचेगी ! ये याद रखना !

इत्यात् पूर्वम् दिवसे मुख्यमंत्री: भोपाले स्व आवासे ऑनलाइन इति माध्यमेन प्रदेशस्य नवगठितम् गौ कैबिनेटस्य सभाम् कृतं ! यस्मिन् गौ आधारितं अर्थव्यवस्थाम् वर्धनाय आगर मालवायाम् च् स्थितं गौ अभ्यारणे गौ उत्पादानां निर्माणाय एकम् अनुसंधान केन्द्रम् स्थापित कृतस्य निर्णयम् अगृहण्यते !

इससे पहले दिन में मुख्यमंत्री ने भोपाल में अपने निवास पर ऑनलाइन माध्यम से प्रदेश की नवगठित गौ कैबिनेट की बैठक की ! इसमें गौ आधारित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए और आगर मालवा में स्थित गौ अभ्यारण में गौ उत्पादों के निर्माण के लिए एक अनुसंधान केन्द्र स्थापित करने का फैसला लिया गया !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

Why Rahul Gandhi is the most EVIL Politician in India?

There is a general perception that Rahul Gandhi is not a serious politician. It is being said that...

Congress’s Manifesto for General Elections 2024 – A horrible and dangerous document, which is like the “Vision 2047” document of terrorist organization PFI

Indian National Congress, which is facing an uphill battle in the Lok Sabha elections and struggling to win...

Intelligence Report claims that Modi Govt ordered targeted killings of Islamic Terrorists in Pakistan

Prime Minister Narendra Modi's office ordered the assassination of individuals in neighbouring Pakistan, Indian and Pakistani intelligence operatives...